धारा 107 क्या है?

दोस्तों आज हम बात करेंगे धारा 107 की आखिर धारा 107 है क्या। 
दोस्तों सामान्यतः हम देखते है की कोई भी छोटा विवाद होने पर हमे पुलिस स्टेशन से धारा 107 लगाकर कोर्ट भेज दिया जाता है जिससे हमे कोर्ट से हिदायत दी जाती है की यदि आप ने पुनः ऐसा कोई अपराध किया तो आप को कठोर दंड दिया जायेगा।
धारा 107 क्या है?


धारा 107 लगाया क्यों जाता है ?

धारा 107 भारतीय दण्ड संहिता में दिए गए दण्ड प्रावधान का एक रूप है जिसके तहत यदि कोई व्यक्ति यदि किसी अपराधिक कृत्य को करने के लिए उकसाता है या कोई षड़यंत्र करता है जिससे जिससे किसी अन्य व्यक्ति को हानि पहुँचती है तो उस व्यक्ति द्वारा लिखाई गई रिपोर्ट के द्वारा षड़यंत्र करता को दण्ड दिया जाता है। 

धारा 107 की लगाने की शक्ति किसके पास होती है ? 

दोस्तों धारा 107 पुलिस द्वारा नहीं लगाई जाती बल्कि धारा 107 को लगाने की शक्ति सब्जेक्टिव जज के पास होती है अर्थात पुलिस भारतीय दण्ड संहिता के अनुसार धारा 151 के तहत उस व्यक्ति पर चार्ज लगाती है। 
उम्मीद करता हूँ की आपको हमारी यह जानकारी पसंद आयी होगी आप को यह जानकारी कैसी लगी हमे कॉमेंट बॉक्स में जरूर बताये 

Post a Comment

Please comment on you like this post.

नया पेज पुराने