The truth of Pakistan's nuclear test: -(पाकिस्तान के परमाणु परीक्षण की सच्चाई:-)

भारत ने 1998 में पोखरण में जो 5 परमाणु परीक्षण किये थे, उसकी देखा देखी पाकिस्तान ने भी अपनी झूठी अकड़ दिखाने के लिए भारत द्वारा किये गए उन 5 परमाणु परीक्षणों के कुछ ही दिन बाद 6 परमाणु परीक्षण किये थे. वो परीक्षण जिस जगह पर हुए थे, उसका नाम है Chagai hills और वो जगह बलोचिस्तान में है. यह बात और है कि अगर आप kilo tonne yeild के हिसाब से दोनों देशों के nuke tests की तुलना करें, तो पाकिस्तान के 6 में से 5 nuke tests के बराबर भारत का सिर्फ एक thermonuclear test था. अब इससे अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि पाकिस्तान के ये nuke tests कितने खोखले थे और किस हद तक सिर्फ दुनिया को, ख़ास तौर पर भारत के सामने अपनी झूठी अकड़ दिखाने के लिए किये गए थे. और भारत के परमाणु ज़खीरे के सामने इनकी इस चोरी, smuggling, illegal trading, और भीख में मिले हुए nuclear technology की क्या और कितनी औकात है.
The truth of Pakistan's nuclear test: -
The truth of Pakistan's nuclear test: -
वरना खुद ही ज़रा सा दिमाग लगाओ, कि जिस मदरसा छाप भिखारी देश का लगभग पूरा economy दूसरे देश - अमेरिका, चीन, सऊदी अरब, ब्रिटेन, फ्रांस, UAE, Qatar, आदि और international संस्थाओं - IMF, world bank, Asian development bank, etc से मिलने वाले इम्दाद, खैरात और भीख से चलता है, उसके पास परमाणु परीक्षण करने के लिए कानूनी तरीके से nuclear technology और पैसे आएंगे कैसे, जब तक गैर कानूनी रास्ते इख्तियार नहीं किये जाते, और वो भी बहुत ही गुप चुप तरीके से.The truth of Pakistan's nuclear test: -
तो अब, ISI के एक top secret mission के तहत late 1970's और Early 1980's में Netherlands में uranium enrichment company, URENCO में काम कर रहे पाकिस्तान के चोर वैज्ञानिक, डॉ. अब्दुल क़ादिर खान ने इसी चोरी को अंजाम दिया, फिर उन चोरी किये गए blue prints को पाकिस्तान के पश्चिमी यूरोप में 3 embassies में मौजूद ISI agents के ज़रिये smuggle करके पाकिस्तान लाया गया, उसके बाद अब्दुल क़ादिर खान खुद yellow fever का बहाना बनाकर चुपचाप वहां URENCO से खिसक लिए और वापिस पाकिस्तान आ गए, उसके बाद इस चोरी किये हुए nuke technology को illegally trade किया गया North Korea, Iran, और Libya के साथ, ख़ास तौर पर North Korea के साथ क्योंकि उस सौदे में पाकिस्तान को North Korea से missile technology मिला था. और जब वो चोरी का माल पूरी तरह से कामयाब नहीं हो सका, तो उसकी भरपाई की पाकिस्तान ने अपने तथाकथित best friend, चीन के सामने nuke technology और missiles की भीख मांगकर. भीख और चोरी से हासिल इस पूरे ज़खीरे को रावल पिंडी के पास कहूटा में assemble करने के लिए वहां पर Khan Research laboratories बनाया गया इसी चोर अब्दुल क़ादिर खान और उसके चेले चपाटों के लिए. और उसी को पाकिस्तान अपना खुद का बनाया हुआ nuke technology और strategic missiles बताता रहता है आज भी  The truth of Pakistan's nuclear test: -
कुछ साल पहले पाकिस्तान के ही कुछ प्रमुख अखबार - DAWN, Express tribune, daily times आदि में यह रिपोर्ट आयी थी कि उन परीक्षणों की वजह से Chagai hills और उसके आस पास के कई इलाकों में radiation इतनी बुरी तरह से फैला था कि आज, China द्वारा 1960's में किये गए कुछ परमाणु परीक्षणों को 1998 में, Chagai hills, बलोचिस्तान में copy-paste करने के इतने साल बाद भी वहां पर अनगिनत बच्चे किसी न किसी genetic disorder या radiation sickness के साथ पैदा हो रहे हैं. यहाँ तक कि उस इलाके के पानी के sources में भी radiation के samples पाए गए हैं. अब नक़ल करते वक़्त अक्ल तो लगाया नहीं इन मदरसा छाप भिखारियों ने, जो इस radiation का असर कम करने के उपाय पहले से मालूम कर लेते. जितना nuke technology चीन ने भीख में दिया, और जितना ये यूरोप से smuggle कर सके, उतना ही हूबहू उतार दिया Chagai hills में, वरना यह radiation की वजह से इतना बुरा हाल नहीं होता उस इलाके का अगर परीक्षण करने से पहले radiation नहीं फैलने के कुछ concrete उपाय भी चीन से copy-paste कर लिया होता. .The truth of Pakistan's nuclear test: -
मतलब यह कि भारत को जवाब देने के लिए, अपनी झूठी अकड़ दिखाते हुए चोरी (from URENCO, Netherlands), smuggling (via 3 paki embassies in west Europe), illegal trading (with Iran, Libya, and most importantly, North Korea), और भीख (from China) में मिले हुए nuke technology से बलोचिस्तान में परमाणु परीक्षण करके बलोचों को radiation का भी शिकार बना दिया आने वाले कई सालों तक इन पाकिस्तानी दरिंदों ने.The truth of Pakistan's nuclear test: -

Post a Comment

Please comment on you like this post.

और नया पुराने